कुल पेज दृश्य

मंगलवार, 22 मार्च 2011

                                           ज्योत्स्ना शर्मा 
 अनियतकालिक पत्रिका 'जलसा' में कवयित्री ज्योत्स्ना शर्मा की मार्मिक और विशिष्ट कविताएँ हाथ लगीं, मन हुआ आपसे भी साझा करूँ. आगामी पोस्ट में उनकी कविताएँ ही होंगी ताकि स्त्री के निजी संसार और उसकी अन्यतम भाषा, अभिव्यक्ति से आप नवीन रूप में परिचित हो सकें...
 ११मार्च १९६५ को अलीगढ़ में जन्मी हिंदी ज़बान की प्रतिभाशाली रचनाकार ज्योत्स्ना शर्मा का २३दिसम्बर २००८ को दुखद परिस्थितियों में निधन हो गया. उनकी रचनाएँ हाल ही में छपना शुरू हुई हैं. कवि-फ़िल्मकार देवीप्रसाद मिश्र उनके जीवन और कृतित्व पर फिल्म बना रहे हैं. (परिचय और कविता 'जलसा' पत्रिका से साभार ली गयी है. सम्पादक- श्री असद ज़ैदी)
             गुमनाम साहस 
           वयस्कों की दुनिया में बच्चा
           और पुरुषों की दुनिया में स्त्री
           अगर होते सिर्फ योद्धा
           अगर होती ये धरती सिर्फ रणक्षेत्र
                                    तो युद्ध भी और जीत भी
           आसान होती किस कदर;
           लेकिन मरने का साहस लेकर
           आते हैं बच्चे
           और हारने का साहस लेकर
           आती हैं स्त्रियाँ
           ऐसा साहस जो गुमनाम है
           ऐसा विचित्र साहस जो लील जाता है
                                     समूचे व्यक्तित्व को

           और कहते हैं वो जो मरा और हारा
                                     कमज़ोर था
           कि यही है भाग्य कीड़ों का;

           ऐसी भी होती है एक शक्ति
           उस छाती में जिसपर
           हर रोज़ गुज़र जाती है
                                एक ओछी दुनिया.
  
                                                                                                                                   क्रमशः...
 

2 टिप्‍पणियां:

  1. शुभागमन...!
    कामना है कि आप ब्लागलेखन के इस क्षेत्र में अधिकतम उंचाईयां हासिल कर सकें । अपने इस प्रयास में सफलता के लिये आप हिन्दी के दूसरे ब्लाग्स भी देखें और अच्छा लगने पर उन्हें फालो भी करें । आप जितने अधिक ब्लाग्स को फालो करेंगे आपके ब्लाग्स पर भी फालोअर्स की संख्या उसी अनुपात में बढ सकेगी । प्राथमिक तौर पर मैं आपको 'नजरिया' ब्लाग की लिंक नीचे दे रहा हूँ, किसी भी नये हिन्दीभाषी ब्लागर्स के लिये इस ब्लाग पर आपको जितनी अधिक व प्रमाणिक जानकारी इसके अब तक के लेखों में एक ही स्थान पर मिल सकती है उतनी अन्यत्र शायद कहीं नहीं । प्रमाण के लिये आप नीचे की लिंक पर मौजूद इस ब्लाग के दि. 18-2-2011 को प्रकाशित आलेख "नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव" का माउस क्लिक द्वारा चटका लगाकर अवलोकन अवश्य करें, इसपर अपनी टिप्पणीरुपी राय भी दें और आगे भी स्वयं के ब्लाग के लिये उपयोगी अन्य जानकारियों के लिये इसे फालो भी करें । आपको निश्चय ही अच्छे परिणाम मिलेंगे । पुनः शुभकामनाओं सहित...

    नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव.

    उन्नति के मार्ग में बाधक महारोग - क्या कहेंगे लोग ?

    उत्तर देंहटाएं
  2. भारतीय ब्लॉग लेखक मंच शहीद दिवस पर आज़ादी के दीवाने शहीद-ए-आज़म भारत माता के वीर सपूत भगत सिंह सहित उन सभी वीर सपूतो को नमन करता है जिन्होंने भारत माता को आजाद करने के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी.
    आईये हम सब मिलकर यह संकल्प ले की भारत की आन-बान और शान के लिए हम सदैव तत्पर रहेंगे. यह मंच आपका स्वागत करता है, आप अवश्य पधारें, यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो "फालोवर" बनकर हमारा उत्साहवर्धन अवश्य करें. साथ ही अपने अमूल्य सुझावों से हमें अवगत भी कराएँ, ताकि इस मंच को हम नयी दिशा दे सकें. धन्यवाद . आपकी प्रतीक्षा में ....
    भारतीय ब्लॉग लेखक मंच

    उत्तर देंहटाएं